PM Kisan Yojana Big Update

PM Kisan Yojana Big UpdatePM Kisan Yojana Big Update : अगर आपने भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लिया है तो यह खबर आपके लिए महत्वपूर्ण है। अगर आप इनकम टैक्स देने वाले किसान हैं या सरकारी नौकरी कर रहे हैं तो आपको सम्मान निधि की रकम वापस करनी होगी. नोटिस मिलने के बाद समय सीमा के अंदर राशि नहीं लौटाने वाले किसानों पर कार्रवाई भी की जायेगी

पीएम किसान योजना नवीनतम समाचार (PM Kisan Yojana Big Update)

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लागू होने के चार साल बाद आयकर दाताओं और नौकरीपेशा किसानों से योजना के तहत जारी राशि की वसूली की जाएगी। योजना के तहत किसान को प्रति वर्ष तीन किस्तों में छह हजार रुपये दिये जाते हैं.

कर देने वाले किसानों और सरकारी नौकरी करने वाले किसानों को इस योजना के लाभ से वंचित करने के बाद 31 मार्च 2023 से वसूली के प्रयास किए जा रहे हैं। कई किसान ऐसे हैं जो अपात्र होने के बाद भी योजना का लाभ ले रहे थे। जिले में चार लाख 37 हजार 630 किसान इस योजना को ले रहे हैं।

वहीं विभाग ने कुल 14 हजार 861 अपात्र और 7019 आयकर दाता किसानों से 20 करोड़ 1 लाख 72 हजार रुपये की राशि वसूलने का लक्ष्य रखा है. फिलहाल पंचायत स्तर पर शिविर लगाकर 58 हजार 409 किसानों का ई-केवाईसी किया जा रहा है

आयकर देने वाले 7019 किसानों से 9.41 करोड़ रुपये की वसूली की जायेगी

जिले के विभिन्न ब्लॉकों में विभाग ने 14861 किसानों को पूरी तरह से अपात्र पाया है। इन किसानों से 20 करोड़ 01 लाख 72 हजार रुपये की वसूली की जानी है। जिला कृषि कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार जिले के 7019 आयकर देने वाले किसानों से 09 करोड़ 40 लाख 28 हजार रुपये की वसूली की जायेगी. इन किसानों को पहले राशि जमा करने की सूचना दी गयी. अब किसानों को समय सीमा के भीतर राशि जमा करने के लिए नोटिस दिए जा रहे हैं।

वसूली में सहयोग नहीं करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई की जाएगी

राशि वसूली के लिए अनुमंडल कृषि पदाधिकारी को नोडल पदाधिकारी बनाया गया है. वे अपने अधीनस्थ प्रखंडों में वसूली कार्य में लगे कृषि समन्वयकों एवं किसान सलाहकारों के संपर्क में रहेंगे। जिला कृषि पदाधिकारी वसूली कार्य का सही ढंग से अनुश्रवण नहीं करने वाले अनुमंडल कृषि पदाधिकारियों का वेतन बंद कर देंगे तथा कार्रवाई के लिए मुख्यालय भेज देंगे

किसान सम्मान निधि का लाभ लेने वाले 7019 आयकर दाता किसानों को चिन्हित किया गया है। इनसे 09 करोड़ 40 लाख 28 हजार रुपये की वसूली की जानी है. उक्त राशि कृषि निदेशक, बिहार, पटना के खाते में जमा की जानी है। 30 नवंबर तक राशि जमा नहीं करने वाले किसानों पर कार्रवाई की जायेगी. राशि वसूली के लिए किसान सलाहकारों व कृषि समन्वयकों को नियुक्त किया गया है

Scroll to Top